पूर्व महिला आयोग की अधिकारी ने रेप पीड़िता पर की चौंकाने वाली टिप्पणी


पूर्व महिला आयोग की...- India TV Hindi
Image Source : REPRESENTATIONAL IMAGE
पूर्व महिला आयोग की अधिकारी ने रेप पीड़िता पर की चौंकाने वाली टिप्पणी

मैसूर: कर्नाटक राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष मंजुला मानसा ने एक चौंकाने वाला बयान दिया है। उन्होंने एक दुष्कर्म पीड़िता के बारे में कहा कि उसकी भी कुछ जिम्मेदारी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उसे रात में इतनी सुनसान जगह पर क्यों आना पड़ा? वह मैनेजमेंट ग्रेजुएट है। उसकी तरफ से कुछ जिम्मेदारी होनी चाहिए। मानसा शहर में थीं जब उन्हें घटना के बारे में पता चला तो वह अपराध स्थल पर गईं। मीडिया से बात करते हुए वह सामूहिक दुष्कर्म के लगभग एक दिन बाद भी प्राथमिकी दर्ज नहीं करने पर पुलिस विभाग और राज्य महिला आयोग पर गुस्सा निकाल रही थीं।

उत्तर प्रदेश की एक कॉलेज छात्रा के साथ मंगलवार रात मैसूर में चामुंडी हिल्स की तलहटी के पास कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया गया। आरोपियों ने लड़की के पुरुष मित्र के साथ भी मारपीट की थी। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पीड़िता और उसके दोस्त ने अस्पताल के डॉक्टरों को सूचित किया कि उन पर हमला किया गया है। इसके बाद अस्पताल प्रशासन ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने पीड़ितों से पूछताछ की तो घटना का पता चला।

इस बीच, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव सी. टी. रवि ने कहा कि अपराध की कुछ घटनाएं पूरे राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति को नहीं दर्शाती हैं। उन्होंने कहा कि कार्रवाई होनी चाहिए और दोषियों को जल्द गिरफ्तार किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि पीड़िता के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। मैंने डीजीपी को उपद्रवियों को तुरंत गिरफ्तार करने का निर्देश दिया है।

गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने एडीजीपी प्रताप रेड्डी के नेतृत्व में सामूहिक दुष्कर्म मामले से निपटने के लिए विशेष टीम का गठन किया है। मैसूर के पुलिस आयुक्त डॉ चंद्र गुप्ता ने कहा कि मामले के बारे में विवरण अभी नहीं दिया जा सकता क्योंकि यह एक संवेदनशील मुद्दा था। उन्होंने कहा कि मैंने मुख्यमंत्री और गृह मंत्री को घटना की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि फिलहाल, पीड़िता का अस्पताल में इलाज चल रहा है। हम देखेंगे कि भविष्य में ऐसी घटनाएं न हों।





Source link

Leave a Comment