BCCI President Sourav Ganguly 2 march meeting rajeev shukla jay shah indian team rohit sharma cricket administrator | BCCI चीफ Sourav Ganguly की कुर्सी भी जाएगी? प्रेसीडेंट पद के लिए मैदान में 2 बड़े दावेदार!


नई दिल्ली: बीसीसीआई (BCCI) ने बहुत ही जल्दी बड़ा बदलाव होने वाला है. 2 मार्च को बीसीसीआई की बैठक होनी है, जिसमें बीसीसीआई (BCCI) चीफ सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के भाग्य का फैसला होना है. सौरव गांगुली और सचिव जय शाह का कार्यकाल का कार्यकाल समाप्त हो रहा है. ऐसे में बीसीसीआई (BCCI) में बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं. 

2 मार्च को होगी बीसीसीआई की बैठक 

कोरोना महामारी की वजह से बोर्ड की बैठक पिछले साल नहीं हो पाई थी. अब बीसीसीआई (BCCI) की बैठक में चीफ सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के पद पर बने रहने और ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप चर्चा हो सकती है. सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के चीफ रहते हुए बीसीसीआई (BCCI) ने कई बड़े बदलाव देखने को मिले. उनकी कप्तानी में खेलने वाले ज्यादातर प्लेयर्स को अहम पद दिए गए. रवि शास्त्री को हटाकर राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) को कोच बनाया. वी वी एस लक्ष्मण को नेशनल क्रिकेट एकेडमी का प्रमुख बनाया गया है. गांगुली का विराट कोहली (Virat Kohli) के कप्तानी से हटने के बाद उनसे विवाद भी हुआ था. मीटिंग के बाद फैंस को काफी सारे बदलाव देखने को मिल सकते हैं. 

सौरव की जगह लेने के हैं दो दावेदार 

सौरव गांगुली अपने समय के धाकड़ बल्लेबाज और करिश्माई कप्तान रहे हैं. उनकी कप्तानी में ही भारत ने विदेशों में जाकर जीतना सीखा. रिटायरमेंट के बाद वह बंगाल क्रिकेट एशोसिएशन के अध्यक्ष बने उसके बाद वह बीसीसीआई (BCCI) के चीफ बने हैं, उनका कार्यकाल विवादों से घिरा रहा है. 2 मार्च को होने वाली बैठक में ये फैसला हो जाएगा कि बीसीसीआई (BCCI) का अगला बॉस कौन होगा. सौरव गांगुली की कुर्सी लेने के लिए मैदान में कई दावेदार मौजूद हैं. इस रेस में बीसीसीआई (BCCI) के सचिव और गृह मंत्री अमित शाह के पुत्र जय शाह उनकी जगह ले सकते हैं. वहीं, बीसीसीआई उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला (Rajeev Shukla)का नाम भी रेस में शामिल है. राजीव शुक्ला (Rajeev Shukla) आईपीएल के चैयरमैन भी रह चुके हैं या ऐसा भी हो सकता है कि सौरव गांगुली को एक्सटेंशन मिल जाए. 

बैठक में हो सकते हैं कई अहम फैसले 

2 मार्च को होने वाली बैठक में कई अहम फैसले लिए जा सकते हैं. इसमें ऑस्ट्रेलिया ( Australia) में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप की रूपरेखा और प्लेयर्स की सेंट्रल कॉन्ट्रेक्ट पर भी चर्चा हो सकती है. जिन खिलाड़ियों ने खराब फॉर्म का नजारा पेश किया है उन्हें सेंट्रल कॉन्ट्रेक्ट से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है. वहीं, चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) का ग्रेड भी कम किया जा सकता है. अब देखने वाली बात होगी कि बीसीसीआई के चीफ सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ही रहते हैं या उनकी जगह कोई नया चेहरा लेता है.  

सौरव गांगुली रहे हैं शानदार कप्तान 

मोहम्मद अजहरुद्दीन के बाद सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने भारतीय टीम की कप्तानी संभाली थी. उसके बाद वह टीम इंडिया को नई ऊंचाइयों पर ले गए. उनकी कप्तानी में ही टीम इंडिया ने विदेशों में जीतना सीखा, लेकिन उनकी कप्तानी में ही भारत को 2003 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा. उन्होंने भारत के लिए 113 टेस्ट मैचों में 7212 रन और 311 वनडे मैचों में 11363 रन बनाए. उन्होंने भारतीय टीम को अपने दम कई मैच जिताए हैं. 

 





Source link

Leave a Comment