Joe Biden announced America to welcome afghans who helped US in Afghanistan War अफगानिस्तान में अमेरिकी सेना की मदद करने वालों को देंगे पनाह, जो बाइडेन का ऐलान


अफगानिस्तान में अमेरिकी सेना की मदद करने वालों को देंगे पनाह, जो बाइडेन का ऐलान- India TV Hindi
Image Source : AP/PTI
अफगानिस्तान में अमेरिकी सेना की मदद करने वालों को देंगे पनाह, जो बाइडेन का ऐलान

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन अफगानिस्तान में अमेरिकी सेना की मदद करने वाले अफगान नागरिकों को शरण देने का ऐलान किया है। लेकिन, इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पहले ऐसे लोगों की पहचान की जाएगी, जिन्होंने अफगानिस्तान के जंग के दौरान अमेरिकी सेना की मदद की है। राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपने ट्वीट में लिखा कि अमेरिका की मदद करने वाले अफगान नागरिकों की मदद करेंगे। जांच के बाद अफगान नागरिकों को अमेरिका में पनाह देंगे और उनके नए घर अमेरिका में स्वागत करेंगे।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने ट्वीट में लिखा, ,”एक बार स्क्रीनिंग और क्लियर हो जाने के बाद, हम उन अफ़गानों का संयुक्त राज्य अमेरिका में उनके नए घर में स्वागत करेंगे, जिन्होंने युद्ध के प्रयास में हमारी मदद की। क्योंकि हम यही हैं, अमेरिका यही है।” गौरतलब है कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की वापसी और वहां तालिबान के कब्जे के बाद से ही अमेरिका पर सवाल उठने लगे थे कि उसने उन अफगान नागरिकों को अकेला छोड़ दिया, जिन्होंने अमेरिकी सेना की मदद की थी।

ऐसे में राष्ट्रपति जो बाइडेन के इस ऐलान के साथ ही अमेरिका ने दुनिया को यह दिखाने की कोशिश की है कि वह उसका साथ देने वालों की मदद से पूछे नहीं हट रहा है। बता दें कि अमेरिकी सेना के हटने के बाद अफगानिस्तान पर अब तालिबान का कब्जा हो गया है। अफगानिस्तान में 34 प्रांत हैं, जिनमें से 33 पर तालिबान का कब्जा है। लेकिन, तालिबान अभी सरकार नहीं बना पाया है। वहां के कुछ हिस्सों में संघर्ष जारी है।

अफगानिस्तान के बानू में घुटनों पर तालिबान! 

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर 15 अगस्त को कब्जा करने वाला तालिबान अब देश में नई सरकार बनाने की तैयारी में है लेकिन उसे कई जगहों पर प्रतिरोध बलों से करारा जवाब मिल रहा है। कई जिलों में प्रतिरोध बलों से तालिबान को कड़ी टक्कर मिल रही है। अफगानिस्तान के बगलान प्रांत के अंद्राब में तालिबानी लड़ाकों के साथ संघर्ष जारी है।

ऐसे में बानू जिले में प्रतिरोध बलों ने तालिबान के जिला प्रमुख सहित 50 तालिबानियों को ढेर कर दिया गया है। इतना ही नहीं, करीब 20 तालिबानी लड़ाकों को बंदी भी बना लिया गया है। पंजशीर प्रोविनेंस ने ट्वीट कर बताया है कि तालिबान का बानू जिला प्रमुख मारा गया है। उसके तीन साथी भी ढेर कर दिए गए।

पंजशीर प्रोविनेंस ट्वीट में आगे बताया कि अंद्राब के विभिन्न इलाकों में लगातार दोनों गुटों के बीच टकराव चल रहा है। फज्र इलाके में 50 तालिबानियों को मारा गया और 20 अन्य को बंदी बना लिया गया है। हालांकि, इस दौरान प्रतिरोध बल का 1 सदस्य मारा गया और छह अन्य घायल हो गए।

नॉर्दन अलायंस का दावा- 300 तालिबानी ढेर

इससे पहले सोमवार को ही पंजशीर में भीषण लड़ाई की खबरें आईं। तालिबान ने पंजशीर को घेरने के लिए दस हजार लड़ाके भेजे हैं। अहमद मसूद की सेना नॉर्दन अलायंस ने दावा किया है कि उन्होंने 300 तालिबानियों को मार गिराया है। ये इलाका अब तक तालिबान से अछूता रहा है लेकिन अब तालिबान इस इलाके पर कब्जा करना चाहता है।

हालांकि, पंजशीर के शेर कहे जाने वाले अहमद शाह मसूद के बेटे अहमद मसूद तालिबान के रास्ते पर चट्टान बनकर खड़े हैं। अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह और बल्ख प्रांत के पूर्व गवर्नर की सैन्य टुकड़ी भी अहमद मसूद के साथ है। अमरुल्लाह सालेह ने तालिबान को देख लेने की धमकी दी है।





Source link

Leave a Comment