NASA Will Try to Blast Didymos Asteroid to Save Collision with earth | धरती पर मंडरा रहा बड़ा खतरा, एस्टेरॉयड से टकराएगा NASA का स्पेसक्राफ्ट


नई दिल्ली: क्या आपने कभी सोचा है कि अगर कोई एस्टेरॉयड (Asteroid) धरती से टकरा जाए तो क्या होगा और ये तबाही कितनी बड़ी होगी? धरती से ऐसे ही एक एस्टेरॉयड के टकराव को रोकने के लिए अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा एक स्पेसक्राफ्ट को एस्टेरॉयड के चांद से क्रैश कराएगी. 

नासा का मिशन

DART, नासा का Double Asteroid Redirection Test mission है, जिसे स्पेस एजेंसी नवंबर में लॉन्च करेगी. SpaceX Falcon 9 rocket की मदद से इसे अंतरिक्ष में भेजा जाएगा. 

स्पेस एजेंसी इसके लिए एस्टेरॉयड के चांद Dimorphos से स्पेसक्राफ्ट को क्रैश कराएगी. Dimorphos एक छोटा सा चांद है, जो asteroid Didymos की परिक्रमा करता है. नासा का मकसद है पृथ्वी से एस्टेरॉयड की टक्कर को रोकना है.

धरती की तरफ तेजी से बढ़ रहा Asteroid 

Didymos एस्टेरॉयड एक NEO या Near-Earth Object (NEO) है. Didymos asteroid धरती की तरफ तेजी से बढ़ रहा है. स्पेस एजेंसी अपने इस मिशन के जरिए भविष्य की किसी भी आशंका को खत्म कर देना चाहती है.

नासा का ये मिशन 23 नवंबर को अमेरिका में कैलिफोर्निया के Vandenberg Space Force Base से लॉन्च होगा. 

‘अंतरिक्ष की खान’ का खुलेगा रहस्य, खरबों की दौलत पर धरती से रखी जा रही नजर

Near-Earth Object के टकराने का खतरा कम होगा

DART के जरिए स्पेस एजेंसी पहली बार अपनी Kinetic Impactor Technique को दुनिया के सामने ला रही है. इसके जरिए एक या कई हाई स्पीड एयरक्राफ्ट को ऐसे Near-Earth Object के रास्ते को इंटरसेप्ट करने के लिए भेजा जाएगा, जो धरती की तरफ बढ़ रहे हैं. इससे पृथ्वी से ऐसे ऑब्जेक्ट्स के टकराने के खतरे को टाला जा सकेगा.





Source link

Leave a Comment