Typhoon Rai: फिलीपीन में तूफान से मरने वालों की संख्या 146 हुई, लोगों से मदद की अपील । Death toll from Typhoon Rai in Philippines rises to at least 112, mayors appeal for aid


Typhoon Rai: फिलीपीन में तूफान से मरने वालों की संख्या 112 हुई, लोगों से मदद की अपील- India TV Hindi
Image Source : AP
Typhoon Rai: फिलीपीन में तूफान से मरने वालों की संख्या 112 हुई, लोगों से मदद की अपील

Highlights

  • फिलीपीन में तूफान ‘राय’ से भारी तबाही, अबतक 112 की मौत
  • बोहोल प्रांत को हुआ सबसे ज्यादा नुकसान
  • तूफान से करीब 7,80,000 लोग प्रभावित हुए

Philippines Typhoon Rai: मध्य फिलीपीन में बोहोल प्रांत के गवर्नर ने रविवार को कहा कि तूफान ‘राय’ से कम से कम 72 और लोगों की मौत हो जाने से देश में इस आपदा से मरने वालों की संख्या 146 हो गई है। इसे इस साल देश में सबसे भयंकर तूफान माना जा रहा है। बोहोल प्रांत के गवर्नर आर्थर याप ने बताया कि 10 लोग अब भी लापता हैं और 13 लोग घायल हुए हैं। याप ने कहा कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि संचार संपर्क बाधित होने के कारण 48 शहरों में से केवल 33 के महापौरों के साथ उनकी बातचीत हो पाई है।

अधिकारी भूस्खलन और बाढ़ की घटनाओं में मरने वालों के बारे में जानकारी जुटा रहे हैं। फेसबुक पर रविवार को जारी किये एक बयान के मुताबिक याप ने अपने प्रांत के महापौरों को 12 लाख से अधिक लोगों के वास्ते भोजन-पानी जुटाने के लिए अपनी आपात शक्तियों का इस्तेमाल करने का आदेश दिया। तूफान प्रभावित क्षेत्रों का सेना की मदद से हवाई सर्वेक्षण के बाद याप ने कहा कि स्पष्ट है कि बोहोल को बहुत ज्यादा नुकसान हुआ है। फिलीपीन के मध्य हिस्से में बृहस्पतिवार और शुक्रवार को तूफान से भारी तबाही हुई। 

सरकार ने कहा है कि तूफान से करीब 7,80,000 लोग प्रभावित हुए। इनमें से 3,00,000 लोगों को अपना घर बार छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर पनाह लेनी पड़ी। आपदा प्रतिक्रिया एजेंसी और राष्ट्रीय पुलिस ने तूफान से जुड़ी घटनाओं में कम से कम 64 और लोगों की मौत की पुष्टि की है। ज्यादातर मौतें पेड़ों या दीवारों के गिरने, आकस्मिक बाढ़ में डूबने या भूस्खलन में मलबे में दबने से हुई। दक्षिणी-पूर्वी प्रांत में एम द्वीप पर तूफान में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई। 

राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने शनिवार को इस क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण किया और दो अरब पेसो (चार करोड़ डॉलर) की मदद देने का वादा किया। हालिया वर्षों में आए इस सबसे भीषण तूफान के दौरान 195 किलोमीटर प्रति घंटे से लेकर 270 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार तक हवाएं चलीं ,जिससे भारी क्षति हुई। तूफान के बाद 227 शहरों और कस्बों में बिजली गुल हो गई। अधिकारियों के मुताबिक अब तक केवल 21 इलाकों में बिजली आपूर्ति बहाल हो पाई है। तीन क्षेत्रीय हवाई अड्डों पर पानी भरा हुआ है। क्रिसमस के पहले भीषण तूफान से मची तबाही ने सबसे शक्तिशाली ‘हेयान’ तूफान की यादें ताजा करा दीं। नवंबर 2013 में ‘हेयान’ तूफान से 6300 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी।





Source link

Leave a Comment