Virat Kohli के कप्तानी छोड़ने पर पहली बार आया Sourav Ganguly का रिएक्शन, दिया चौंकाने वाला बयान


नई दिल्ली: टीम इंडिया के दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली (Virat Kohli) ने शनिवार की शाम पूरी दुनिया को चौंका कर रख दिया. दरअसल इस दिग्गज खिलाड़ी ने अचानक टेस्ट की कप्तानी को छोड़ने का फैसला किया. विराट टी20 की कप्तानी छोड़ने के बाद बीसीसीआई (BCCI) के द्वारा वनडे की कप्तानी से भी हटा दिए गए थे. वनडे कप्तानी से हटाए जाने के बाद विराट (Virat Kohli) और बीसीसीआई के बीच लगातार तनातनी चल रही थी. बीसीसीआई चीफ सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) और विराट लगातार एक दूसरे को लेकर बयान देते रहते थे. लेकिन इसी बीच विराट के कप्तानी छोड़ने के बाद सौरव गांगुली का पहला रिएक्शन दुनिया के सामने आया है. 

गांगुली ने कोहली को कही ये बात

कोहली (Virat Kohli) के कप्तानी छोड़ने के बाद गांगुली ने पहली बार कुच रिएक्शन दिया. बता दें कि कोहली (Virat Kohli) ने जब से टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ी है तभी से गांगुली फैंस के निशाने पर हैं. इसी बीच गांगुली (Sourav Ganguly) ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘विराट की लीडरशिप में भारतीय क्रिकेट टीम ने तीनों फॉर्मेट में शानदार प्रदर्शन किया. ये विराट का व्यक्तिगत फैसला है और बीसीसीआई इसका सम्मान करता है. वो अभी भी इस टीम के अहम सदस्य हैं और हमेशा रहेंगे. टीम को नई ऊंचाइयों तक ले जाने में उनका योगदान अहम रहने वाला है. विराट एक महान खिलाड़ी हैं. बहुत बढ़िया विराट.’ हालांकि गांगुली के इस बयान ने सभी को चौंका कर रख दिया है क्योंकि कप्तानी के मुद्दे पर उनकी विराट से बिल्कुल भी नहीं बनती थी. 

 

बीसीसीआई के साथ था विवाद

सीमित ओवरों की कप्तानी को लेकर बीसीसीआई  (BCCI) और कोहली की इस दौरे से पहले ठन गई थी जब कोहली ने दक्षिण अफ्रीका रवानगी से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के बयान का खंडन करते हुए कहा था कि उनसे टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने के फैसले पर पुनर्विचार के लिए नहीं कहा गया था. चीफ सेलेक्टर्स चेतन शर्मा ने हालांकि कोहली के बयान का खंडन किया था. 

अचानक लिया कप्तानी छोड़ने का फैसला

विराट कोहली (Virat Kohli) ने दक्षिण अफ्रीका से सीरीज 1-2 से हारने के एक दिन बाद ट्वीट किया, ‘एक मुकाम पर आकर सबको ठहरना होता है और मेरे लिये बतौर भारतीय टेस्ट कप्तान ये वही मुकाम है. इस सफर में कई उतार चढाव आए लेकिन कोशिशों या विश्वास में कभी कमी नहीं रही.’

 

‘टीम के लिए बेईमान नहीं हो सकता’

विराट कोहली (Virat Kohli) ने आगे लिखा, ‘पिछले सात साल लगातार कड़़ी मेहनत, अथक प्रयासों और दृढता से टीम को सही दिशा में ले जाने के रहे. मैने पूरी ईमानदारी से काम किया और कोई कसर नहीं छोड़ी. मैने हमेशा अपनी ओर से 120 फीसदी देने पर भरोसा किया है और अगर मैं ऐसा नहीं कर पा रहा तो मुझे ये सही नहीं लगता. मेरे दिल में ये बात एकदम साफ है और मैं अपनी टीम के प्रति बेईमान नहीं हो सकता.’

 





Source link

Leave a Comment